आज गुरुवार है साईं जी का वार है

RELATED – मोरछड़ी लहराई रे रसिया ओ सांवरा भजन लिरिक्स

भजन कर मस्त जवानी में बुढ़ापा किसने देखा है भजन लिरिक्स

thursday bhajan lyrics

aaj guruvar hai sai ji kaa vaar hai sache man se jo koi aawe us ka beda paar hai

आज गुरूवार है साईं तेरा वार है,
सचे दिल से जो कोई आवे उस का बेडा पार,
आज गुरूवार है साईं तेरा वार है

आज के दिन जो भी कोई दर्शन तेरे पाता है,
दुःख उसके सब मिट जाते है भाव सागर तर जाता है,
श्रधा की बर्मार है सबुरी भी अपार है,
सच्चे दिल से जो कोई आवे उसका बेडा पार है,
आज गुरूवार है….

आज सुबह से ही बाबा की सजती प्यारी झांकी है,
दर्शनों की खातिर देखो आये नर और नारी है,
घंटी की आवाज है भगतो की कतार है,
सच्चे दिल से जो कोई आवे उसका बेडा पार है,
आज गुरूवार है….

बाबा की है बात निराली जो मांगे वो पाता है,
जिसने देखे जलवे तेरे उम्र सारी गुण गाता है,
तू ही जानी जान है महिमा अप्रम पार है,
सच्चे मन से जो कोई आवे उसका बेडा पार है,
आज गुरूवार है….

हार फिकरी साईं को किस्मत वाले पाते है,
वही है आता दर पे जिसको साईं जी भूलाते है,
साईं मेरे साथ है किस बात की दरकार है,
सच्चे दिल से जो कोई आवे उसका बेडा पार है,
आज गुरूवार है….

आया हु मैं दर पे तेरे बात समज में आई है,
यु ही नही ये सारी दुनिया भीड़ बन के आई है,
जय कारो की पुकार है सच्चा ये दरबार,
सच्चे दिल से जो कोई आवे उसका बेडा पार है,
आज गुरूवार है….

Leave a Comment