काल रात ने सपणो भजन लिरिक्स | kal raat ne sapno aayo lyrics

Kal Raat Ne Sapno Aayo Bhajan Lyrics

kal raat ne sapno aayo bhajan lyrics | हे काल रात्रि हे कल्याणी

काल रात ने सपणो आयो,
बाबो हेला मारे,
मंदिर में मेरो मन नहीं लागे,
मनै ले चालो सागै।।

भगत मेरा मनै याद करै,
और खाटू ना आ पावै,
कालजड़ो मेरो भर भर आवै,
कुछ भी नहीं सुहावै।।

भाव भजन थारा चोखा लागै,
याद घणेरी आवै,
लीलो भी मेरो छम छम नाचै,
बिल्कुल ना रूक पावै।।

राख भरोसो बाबो थारो,
था पर जान लुटावै,
बणीं न कोई आफत एसी,
जो थानै भरमावै।।

संजू बोले वनवारी यो,
सपनो सच हो जावे,
म्हारे घरा ले चालु बाबा,
थाने म्हारे सागे।।

Leave a Comment