Pretraj Sarkar Chalisa Lyrics: श्री प्रेतराज चालीसा व इसके अद्भुत फायदे

श्री प्रेतराज सरकार चालीसा लिरिक्स हिंदी व अंग्रेजी में तथा इसके फायदे। श्री प्रेतराज चालीसा विडियो।चालीसा संग्रह की लेख श्रृंखला में आइए आज ‌श्री प्रेतराज चालीसा जानते हैं , पहले हिंदी में और फिर अंग्रेजी में। इसके बाद इसके पाठ से होने वाले फायदे जानेंगे –

श्री प्रेतराज चालीसा – हिन्दी में

!! दोहा !!

गणपति की कर वन्दना, गुरु चरणन चित लाए !

प्रेतराज जी का लिखूँ, चालीसा हरषाए !!

जय जय भूतादिक प्रबल, हरण सकल दुख भार !

वीर शिरोमणि जयति, जय प्रेतराज सरकार !!

!! चोपाई !!

जय जय प्रेतराज जगपावन !

महाप्रबल दुख ताप नसावन !! 1

विकट्वीर करुणा के सागर !

भक्त कष्ट हर सब गुण आगर !! 2

रतन जडित सिंहासन सोहे !

देखत सुर नर मुनि मन मोहे !! 3

जगमग सिर पर मुकुट सुहावन !

कानन कुण्डल अति मनभावन !! 4

धनुष किरपाण बाण अरु भाला !

वीर वेष अति भ्रकुटि कराला !! 5

गजारुढ संग सेना भारी !

बाजत ढोल म्रदंग जुझारी !! 6

छ्त्र चँवर पंखा सिर डोलें !

भक्त वृन्द मिल जय जय बोलें !! 7

भक्त शिरोमणि वीर प्रचण्डा !

दुष्ट दलन शोभित भुजदण्डा !! 8

चलत सैन काँपत भु-तलह !

दर्शन करत मिटत कलिमलह !! 9

घाटा मेंहदीपुर में आकर !

प्रगटे प्रेतराज गुण सागर !! 10

लाल ध्वजा उड रही गगन में !

नाचत भक्त मगन हो मन में !! 11

भक्त कामना पूरन स्वामी !

बजरंगी के सेवक नामी !! 12

इच्छा पूरन करने वाले !

दुख संकट सब हरने वाले !! 13

जो जिस इच्छा से हैं आते !

मनवांछित फल सब वे हैं पाते !! 14

रोगी सेवा में जो हैं आते !

शीघ्र स्वस्थ होकर घर हैं जाते !! 15

भूत पिशाच जिन वैताला !

भागे देखत रुप विकराला !! 16

भोतिक शारीरिक सब पीडा !

मिटा शीघ्र करते हैं क्रीडा !! 17

कठिन काज जग में हैं जेते !

रक्त नाम पूरा सब होते !! 18

तन मन से सेवा जो करते !

उनके कष्ट प्रभु सब हरते !! 19

हे करुणामय स्वामी मेरे !

पडा हुआ हूँ दर पे तेरे !! 20

कोई तेरे सिवा ना मेरा !

मुझे एक आश्रय प्रभु तेरा !! 21

लज्जा मेरी हाथ तिहारे !

पडा हुआ हूँ चरण सहारे !! 22

या विधि अरज करे तन-मन से !

छुटत रोग-शोक सब तन से !! 23

मेंहदीपुर अवतार लिया है !

भक्तों का दुख दूर किया है !! 24

रोगी पागल सन्तति हीना !

भूत व्याधि सुत अरु धन छीना !! 25

जो जो तेरे द्वारे आते !

मनवांछित फल पा घर जाते !! 26

महिमा भूतल पर छाई है !

भक्तो ने लीला गाई है !! 27

महन्त गणेश पुरी तपधारी !

पूजा करते तन-मन वारी !! 28

हाथों में ले मुदगर घोटे !

दूत खडे रहते हैं मोटे !! 29

लाल देह सिन्दूर बदन में !

काँपत थर-थर भूत भवन में !! 30

जो कोई प्रेतराज चालीसा !

पाठ करे नित एक अरु हमेशा !! 31

प्रातः काल स्नान करावै !

तेल और सिन्दूर लगावै !! 32

चन्दन इत्र फुलेल चढावै !

पुष्पन की माला पहनावै !! 33

ले कपूर आरती उतारें !

करें प्रार्थना जयति उचारें !! 34

उन के सभी कष्ट कट जाते !

हर्षित हो अपने घर जाते !! 35

इच्छा पूरन करते जन की !

होती सफल कामना मन की !! 36

भक्त कष्ट हर अरि कुल घातक !

ध्यान करत छूटत सब पातक !! 37

जय जय जय प्रेताधिराज जय !

जयति भुपति संकट हर जय !! 38

जो नर पढत प्रेत चालीसा !

रहते ना कबहुँ दुख लवलेशा !! 39

कह ‘सुखराम’ ध्यानधर मन में !

प्रेतराज पावन चरनन में !! 40

!! दोहा !!

दुष्ट दलन जग अघ हरन ! समन सकल भव शूल !!

जयति भक्त रक्षक सबल ! प्रेतराज सुख मूल !! 1

विमल वेश अंजनि सुवन ! प्रेतराज बल धाम !!

बसहु निरन्तर मम ह्र्दय ! कहत दास सुखराम !! 2

!! इति श्री प्रेतराज चालीसा !!

Shri Pretraj Sarkar Chalisa Lyrics in English

Doha

Ganpati ki kar Vandana, Guru Charanan Chit Lay.

Pretraj ji ka likhun, Chalisa harsay.1

Jay Jay Bhutadik Prabal, Haran Shakal Dukh bhar.

Veer Shiromani Jayati, Jay Pretraj Sarkar. 2

Chaupai

Jay Jay pretraj Jag Pavan,

Mahaprabal dukh tap nasavan. 1

Vikatveer karuna ke saagar.

Bhakt kast har sab gun aagar. 2

Ratan jadit sinhasan sohe.

Dekhat sur nar muni man mohe. 3

Jagmag sir parmukut suhavan.

Kanan kundal ati manbhavan. 4

Dhanus kirpaan baan aru bhala.

Veer vesh ati bhrakuti karala. 5

Gajarud sang sena bhari.

Baajat dhol mradang jhujhari. 6

Chhatra chanvar pankha sir dole.

Bhakt vrind mil jay jay bole. 7

Bhakt siromani veer prachanda.

Dust dalan shobhit bhujdanda. 8

Chalat sain kanpat bhu-talah.

Darshan karat mitat kalimlah.9

Ghata mehandipur me aakar.

Pragte Pretraj gun sagar. 10

Lal dhvaja ud rahi gagan me.

Nachat bhakt magan ho man me. 11

Bhakt Kamana purana Swami.

Bajrangi ke Sevak Naami. 12

Ichcha purn karne Wale.

Dukh Sankat sab harne wale.13

Jo jis ichcha se Hain aate.

manovanchit fal Sab we Hain pate. 14

Rogi seva mein Jo hai aate.

Shighra swasth hokar ghar hai jaate. 15

Bhoot pisaach Jin betala.

Bhaage dekhat roop vikraala.16

Bhautik sharirik sab pida.

Mita shighra karte hai krida.17

Kathin kaaj Jag mein hai Jete.

Rakhta Nama pura sab hote. 18

Tan man se seva Jo karte.

Unke kasht Prabhu sab harte.19

He Karunamay Swami mere.

Pada hua hun dar pe tere. 20

Koi tere Siva Na Mera.

Mujhe ek aashray Prabhu Tera. 21

Lajja meri haath tihare.

Pada huva hu charan sahare. 22

Yah vidhi Araj Kare tan man se.

Chhutat Rog shok sab tan se. 23

Mehandipur Avatar liya hai.

Bhakton ka Dukh dur Kiya hai. 24

Rogi pagal santati Heena.

Bhoot vyadhi sut aru dhan chhinna. 25

Jo Jo tere dwar aate

Manovanchit fal pa Ghar jaate. 26

Mahima bhutal per chhai hai.

Bhakton ne Leela gai hai. 27

Mahant Ganesh puri tapdhari.

Puja karte tan man vari. 28

Hatho me le mudgar ghote.

Dut khare rahte hai mote. 29

Lal deh sindur badan me.

Kanpat thar thar bhut bhavan me. 30

Jo koi Pretraj Chalisa.

Path kare nit ek aru hamesa. 31

Pratah kal snan karavai.

Tel aur sindur lagavai. 32

Chandan itra fulel chadave.

Pushpan ki mala pahnave. 33

Le kapur aarti utare.

Kare prarthna jayati uchare. 34

Unke sabhi kast kat jate.

Harshit ho apne ghar jate. 35

Ichcha puran karte jan ki.

Hoti safal kamna man ki. 36

Bhakt kast har ari kul ghatak.

Dhyan karat chhutat sab patak. 37

Jay jay jay Pretadhiraj jay.

Jayati bhupati sankat har jay.38

Jo nar padhat Pret Chalisa.

Rahte na kabhu dukh lavlesha. 39

Kah Shukhram dhyandhar man me.

Pretraj paavan charnan me. 40

Doha

Dust dalan jag agh haran, Saman sakal bhav shul.

Jayati bhakta rakshak sabal, Pretraj sukh mul. 1

Vimal vesh anjani suvan, Pretraj bal dham.

Bashu nirantar mam hridaya, kahat das Sukhram. 2

प्रेतराज चालीसा के फायदे

1. श्री प्रेतराज चालीसा का पाठ श्रद्धापूर्वक करने से मन की लालसा पूर्ण होती हैं। दुःख संकट सब दुर होती है।

2. यदि कोई रोगी है तो उसे उनके रोग से मुक्ति मिलती है। शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करता है।

3. भूत प्रेत पिसाच अला बला दुष्ट आत्माओं की बुरी नजर से निजात मिलती है।

4. सारे कठिन कार्य सुगमतापूर्वक होने लगता है ।

प्रेतराज चालीसा के पाठ से होने वाले फायदे  नीचे दिए पंक्तियों में वर्णित है –

इच्छा पूरन करने वाले !

दुख संकट सब हरने वाले !! 13

जो जिस इच्छा से हैं आते !

मनवांछित फल सब वे हैं पाते !! 14

रोगी सेवा में जो हैं आते !

शीघ्र स्वस्थ होकर घर हैं जाते !! 15

भूत पिशाच जिन वैताला !

भागे देखत रुप विकराला !! 16

भोतिक शारीरिक सब पीडा !

मिटा शीघ्र करते हैं क्रीडा !! 17

कठिन काज जग में हैं जेते !

रक्त नाम पूरा सब होते !! 18

तन मन से सेवा जो करते !

उनके कष्ट प्रभु सब हरते !! 19

हे करुणामय स्वामी मेरे !

पडा हुआ हूँ दर पे तेरे !! 20

कोई तेरे सिवा ना मेरा !

मुझे एक आश्रय प्रभु तेरा !! 21

लज्जा मेरी हाथ तिहारे !

पडा हुआ हूँ चरण सहारे !! 22

या विधि अरज करे तन-मन से !

छुटत रोग-शोक सब तन से !! 23

मेंहदीपुर अवतार लिया है !

भक्तों का दुख दूर किया है !! 24

रोगी पागल सन्तति हीना !

भूत व्याधि सुत अरु धन छीना !! 25

जो जो तेरे द्वारे आते !

मनवांछित फल पा घर जाते !! 26

1 thought on “Pretraj Sarkar Chalisa Lyrics: श्री प्रेतराज चालीसा व इसके अद्भुत फायदे”

  1. Элвис Пресли, безусловно, один из наиболее влиятельных музыкантов в истории. Родившийся в 1935 году, он стал иконой рок-н-ролла благодаря своему харизматичному стилю и неповторимому голосу. Его лучшие песни, такие как “Can’t Help Falling in Love”, “Suspicious Minds” и “Jailhouse Rock”, стали классикой жанра и продолжают восхищать поклонников по всему миру. Пресли также известен своими выдающимися выступлениями и актёрским талантом, что сделало его легендой не только в музыке, но и в кинематографе. Его наследие остается живым и вдохновляет новые поколения артистов. Скачать музыку 2024 года и слушать онлайн бесплатно mp3.

    Reply

Leave a Comment