शक्तिशाली सूर्य मंत्र | surya dev mantra in hindi

surya dev mantra in hindi

शक्तिशाली सूर्य मंत्र

रविवार का दिन श्रष्टी के प्रत्यक्ष देव भगवान सूर्य को समर्पित है। इसके साथ-साथ शुद्ध उच्चारण के करते हुए आदित्य ह्रदय स्तोत्र का पाठ भी अवश्य करना चाहिए।
भगवान सूर्यदेव के मंत्र –

Surya Mantra
ॐ ऐहि सूर्य सहस्त्रांशों तेजो राशे जगत्पते, अनुकंपयेमां भक्त्या, गृहाणार्घय दिवाकर: ।
ॐ ह्रीं घृणिः सूर्य आदित्यः क्लीं ॐ ।
ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय नमः ।
ॐ सूर्याय नम: ।
ॐ घृणि सूर्याय नम: ।

सर्व शक्तिशाली मंत्र

  • ॐ घृ‍णिं सूर्य्य: आदित्य:
  • ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय नमः
  • ॐ सूर्याय नम:
  • ॐ घृणि सूर्याय नम:
  • ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय सहस्रकिरणराय मनोवांछित फलम् देहि देहि स्वाहा
  • ॐ ऐहि सूर्य सहस्त्रांशों तेजो राशे जगत्पते, अनुकंपयेमां भक्त्या, गृहाणार्घ्य दिवाकर:
  • ॐ ह्रीं घृणिः सूर्य आदित्यः क्लीं ॐ 
  • सूर्य देव के कुछ अन्य मंत्र: ॐ भास्कराय नमः, ॐ अर्काय नमः, ॐ सवित्रे नमः, ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय नम. 
  • ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, ‘ॐ सूर्याय नमः’ मंत्र का जाप कभी भी किया जा सकता है. यह मंत्र सूर्य देव की प्रार्थना करने जितना ही शक्तिशाली माना गया है. इसे सूर्य नाम मंत्र कहते हैं. 
  • सूर्य देव को प्रसन्न करने के लिए, रविवार को जल्दी स्नान करना चाहिए. इसके बाद शुद्ध जल तांबे के पात्र में लेकर सूर्य देव को अर्घ्य देना चाहिए और ‘ओम सूर्याय नमः ओम वासुदेवाय नमः ओम आदित्य नमः’ मंत्र का जाप करना चाहिए. ऐसा करने से सूर्य देव जल्द ही आपकी मनोकामना पूरी करते हैं. 
  • सूर्य नमस्कार को सर्वांग व्यायाम कहा जाता है. सूर्य नमस्कार सदैव खुली हवादार जगह पर कंबल का आसन बिछा कर खाली पेट अभ्यास करना चाहिए. सूर्य नमस्कार करने से मन शांत और प्रसन्न होता है.